Sansad Adarsh Gram Yojana 2024 | सांसद आदर्श ग्राम योजना 2024

सांसद आदर्श ग्राम योजना :- सांसद आदर्श ग्राम योजना (Sansad Adarsh Gram Yojana – SAGY) एक ग्राम विकास परियोजना है, जिसके तहत प्रत्येक संसद सदस्य (सांसद) के पास 2019 तक तीन गांवों में बेहतरीन ढांचे से विकसित करने की जिम्मेदारी है। इस योजना का लक्ष्य पांच ‘आदर्श गांव’ या ‘मॉडल गांव’ विकसित करना है।

Sansad Adarsh Gram Yojana
Sansad Adarsh Gram Yojana

सांसद आदर्श ग्राम योजना क्या है?

सांसद आदर्श ग्राम योजना को ‘सांझी’ के नाम से भी जाना जाता है। जिसे 11 अक्टूबर 2014 को भारत सरकार के तहत माननीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लॉन्च किया गया था। Sansad Adarsh Gram Yojana – SAGY देश का एक विकास कार्यक्रम परियोजना है, जो मुख्य रूप से गांवों के सामाजिक और सांस्कृतिक विकास पर केंद्रित है। 

इन्हें पढ़ें :-

इस योजना के तहत, प्रत्येक संसद सदस्य वर्ष 2019 तक अपने क्षेत्र के तीन-तीन गांवों में संस्थागत और भौतिक बुनियादी ढांचे के विकास के लिए जिम्मेदार है। सांसद आदर्श ग्राम योजना की स्थापना वर्ष 2019 तक तीन गांवों को विकसित करने और उसके बाद पांच आदर्श ग्रामों के विकास के लक्ष्य के साथ की गई थी। वर्ष 2024 तक इसका लक्ष्य विभिन्न मॉडल गांवों के विकास के साथ-साथ बुनियादी – आधारशिला ढांचे के विकास के अलावा अन्य उद्देश्यों को प्राप्त करना भी है।

Sansad Adarsh Gram Yojana का उद्देश्य

SAGY के मुख्य उद्देश्य हैं :-

  • क्षेत्र में ऐसी प्रक्रियाओं को शुरू करना जिससे चिन्हित ग्राम पंचायतों का अच्छे से विकास हो सके।
  • आर्थिक, बुनियादी सुविधाओं में सुधार करना।
  • मानव विकास को बढ़ाकर, उच्च उत्पादकता पैदा करना।
  • मानव विकास को बढ़ाकर, बेहतर आजीविका के अवसर प्रदान करना।
  • असमानताओं को कम करना
  • सामाजिक पूंजी को समृद्ध करके आबादी के सभी वर्गों के जीवन स्तर और जीवन की गुणवत्ता में सुधार करना।
  • पड़ोसी ग्राम पंचायतों को अनुकूलन के लिए प्रेरित करना।
  • पंचायत के लोगों को प्रेरित करने के लिए स्थानीय स्तर के विकास और प्रभावी स्थानीय शासन के मॉडल तैयार करना।
  • अन्य ग्राम पंचायतों को प्रशिक्षित करने के लिए चयन किए गए आदर्श ग्रामों को स्थानीय विकास के स्कूलों के रूप में विकसित करना।

सांसद आदर्श ग्राम योजना का लक्ष्य

  1. व्यक्तिगत विकास :– पंचायत के सभी गाँवों की स्वच्छता बनाए रखना और गाँव के लोगों की व्यवहार में परिवर्तन और व्यक्तिगत मूल्यों का विकास करना।
  2. मानव विकास :– पंचायत के सभी गांवों को शिक्षा और सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना। 
  3. स्वास्थ्य विकास :– इसका उद्देश्य गांव के लोगों के स्वास्थ्य और पोषण में सुधार करना भी है।
  4. आर्थिक विकास :- गांवों को आर्थिक रूप से विकास करना।
  5. सामाजिक विकास :- पंचायत के सभी गांवों में सामाजिक कार्यक्रम शुरू करना जिसमें स्वैच्छिकवाद, सामाजिक न्याय और सुशासन शामिल होना चाहिए।
  6. सांस्कृतिक विकास :- पंचायत में सांस्कृतिक कार्यक्रम शुरू करना तथा इसको लेकर लोगों को जागरूक करना।
  7. पर्यावरण विकास :- सभी गांवों में पेड़ – पौधा लगाना ताकि पर्यावरण का बेहतर बनाया जा सके।

सांसद आदर्श ग्राम योजना का मूल्य

Sansad Adarsh Gram Yojana का उद्देश्य मात्र अवसंरचना विकास करने के अलावा, गाँव में और उसकी जनता के मन में कतिपय नैतिक भावनाएं उत्पन्न करना है ताकि वे अन्य लोगों के लिए मॉडल बन सकें। इन मूल्यों में निम्नलिखित शामिल हैं :-

  • लोगों की भागीदारी को अपने ध्येय के रूप में अपनाना-ग्रामीण जीवन से संबंधित सभी पहलुओं खासकर शासन से संबंधित निर्णयों में, समाज के सभी वर्गों का सहभागिता सुनिश्चित करना।
  • अंत्योदय के सिद्धान्त के अनुसार – गाँव में “सबसे निर्धन और कमजोर व्यक्तियों” को सक्षम बनाना ताकि वे अपना कर सकें।
  • महिला पुरूष समानता की पुष्टि करना और महिलाओं के लिए सम्मान सुनिश्चित करना।
  • सामाजिक न्याय सुनिश्चित करना।
  • श्रम की गरिमा और सामुदायिक सेवा एवं स्वैच्छिक सेवा की भावना मन में बैठाना।
  • साफ-सफाई की आदत को बढ़ावा देना।
  • प्रकृति की सुरक्षा करते हुए विकास और पर्यावरण में संतुलन सुनिश्चित करना।
  • स्थानीय सांस्कृतिक धरोहर को संरक्षित रखना और इसे प्रोत्साहन देना।
  • पारस्परिक सहयोग, स्व-सहायता और आत्म विश्वास की भावना उत्पन्न करना।
  • ग्रामीण समुदाय में शांति और सौहार्द को बनाए रखना।
  • सार्वजनिक जीवन में पारदर्शिता, जवाबदेही और ईमानदारी बढ़ाना।
  • स्थानीय स्व-शासन को सहायता प्रदान करना।
  • भारतीय संविधान के मौलिक अधिकार और कर्तव्यों में उल्लिखित नैतिक मूल्यों का अनुपालन करना।
सांसद आदर्श ग्राम योजना 2024
सांसद आदर्श ग्राम योजना 2024

Eligibility of Sansad Adarsh Gram Yojana

SAGY के पात्रता

  1. ग्राम पंचायत मूल इकाई होनी चाहिए।
  2. गाँव की आबादी मैदानी इलाकों में 3000-5000 और पहाड़ी, आदिवासी और दुर्गम इलाकों में 1000-3000 होनी चाहिए।
  3. सांसद अपने गांव या अपने पति या पत्नी के गांव के अलावा देश के किसी भी जिले के ग्रामीण क्षेत्र से एक उपयुक्त ग्राम पंचायत की पहचान करेगा।
  4. लोकसभा सांसद एक ग्राम पंचायत की पहचान करेगा जिसे तुरंत लिया जाएगा, और बाकी दो को थोड़ी देर बाद लिया जाएगा।
  5. सांसद को अपने निर्वाचन क्षेत्र के भीतर से एक ग्राम पंचायत चुननी होती है।
  6. राज्यसभा सांसद को उस राज्य में अपनी पसंद के जिले के ग्रामीण क्षेत्र से एक ग्राम पंचायत चुननी होती है, जहां से वह चुना जाता है।
  7. शहरी निर्वाचन क्षेत्रों (जहां कोई ग्राम पंचायतें नहीं हैं) के मामले में, सांसद नजदीकी ग्रामीण निर्वाचन क्षेत्र से एक ग्राम पंचायत की पहचान करेगा।
  8. एक बार सांसद द्वारा चयनित ग्राम पंचायतें (जिनका कार्यकाल इस्तीफे या अन्यथा के कारण समाप्त हो गया है) को SAGY के तहत वैसे ही जारी रखा जाएगा, भले ही सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत ग्राम पंचायत में गतिविधियां पहले ही शुरू हो चुकी हों या नहीं।
  9. नवनिर्वाचित सांसदों के पास 2019 तक अपनी पसंद की ग्राम पंचायत और उसके बाद दो और ग्राम पंचायत चुनने का विकल्प होगा।

नोट :- सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत मुख्य रूप से, लक्ष्य मार्च 2019 तक तीन आदर्श ग्राम विकसित करने का है। जिनमें से एक को 2016 तक हासिल किया जाएगा। इसके बाद 2024 तक पांच ऐसे आदर्श ग्राम (प्रति वर्ष एक) का चयन और विकास किया जाएगा।

Sansad Adarsh Gram Yojana में आवेदन की प्रक्रिया

ऑफलाइन

संसद सदस्य (सांसद) अपने गांव या अपने पति या पत्नी के गांव के अलावा देश के किसी भी जिले के ग्रामीण क्षेत्र से एक उपयुक्त ग्राम पंचायत की पहचान करेगा, जिसे समग्र विकास किया जाएगा।

Sansad Adarsh Gram Yojana PDF Download

निष्कर्ष :- आज के इस आर्टिकल में हमने जाना कि सांसद आदर्श ग्राम योजना 2024 | Sansad Adarsh Gram Yojana 2024 के बारे तथा इसके अलावे और भी बहुत कुछ जो आपको जानने लायक हो।

आपको ये आर्टिकल पसंद आया हो तो कॉमेंट करें और हमें Social Media में Follow कर सकते हैं।

FAQs:-

सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत कितने गाँव को गोद लेना है?

5

गाँव की आबादी कितनी होनी चाहिए?

मैदानी इलाकों में 3000-5000 और पहाड़ी, आदिवासी और दुर्गम इलाकों में 1000-3000 होनी चाहिए।

Sansad Adarsh Gram Yojana कब से शुरू हुआ?

11 अक्टूबर 2014

6 thoughts on “Sansad Adarsh Gram Yojana 2024 | सांसद आदर्श ग्राम योजना 2024”

Leave a Comment